Advertisement

Indian Temples Wealth : मंदिरों से अमीर बन रहा भारत, जानिए कैसे?

0
20
Indian Temples Wealth : मंदिरों से अमीर बन रहा भारत, जानिए कैसे?

Indian Temples Wealth : मंदिर बनाने से लोगों को क्या फायदा होगा. अक्सर लोग ऐसे सवाल पुछते आपको नजर आते होंगे. हमारे आसपास ऐसे सोच के इंसान आराम से मिल जाते हैं. जिन्हें धार्मिक स्थलों के निर्माण पर आपत्ति होती है. चाहे अयोध्या में बन रहे राम मंदिर हो या बनारस की काशी कॉरिडोर, सभी जगहों पर इस तरह के सवाल उठाए गए. लेकिन क्या आप जानते हैं कि भारत की जीडीपी में मंदिरों का कितना बड़ा योगदान है.

10 गुणा बढ़ेगा पर्यटन

इसका सबसे बड़ा उत्तर है काशी. ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं, क्योंकि काशी कॉरिडोर बनने से पहले बनारस में करीब 80 लाख पर्यटक आया करते थे. लेकिन जब काशी का जीर्णोद्धार हुआ, उसके बाद प्रति वर्ष 7 करोड़ 30 लाख लोग आने लगे.

ये भी पढ़ें – Moye Moye : क्या है सोशल मीडिया पर ट्रेंड हो रहा ‘मोये-मोये’?, जिसने हर किसी को बनाया हुआ है अपना दीवाना

इतना ही नहीं साल 2022 तक काशी विश्वनाथ में चढ़ाए जा रहे आर्थिक दान की राशि 100 करोड़ हो गई. योगी आदित्यनाथ ने पिछले दिनों कहा था कि अयोध्या में राम मंदिर बनने के बाद पर्यटन 10 गुणा अधिक हो जाएगा. काशी और केदारनाथ के जीर्णोद्धार के बाद ये देखने को भी मिला.

मंदिरों से हुई 65 हजार लाख करोड़ की कमाई

पर्यटन विभाग के एक आकंड़े के अनुसार साल 2022 में मंदिरों से सरकार को 65 हजार लाख करोड़ की कमाई हुई. जो साल 2023 में बढ़ कर 1.34 लाख करोड़ हो गया. यह अप्रत्याशित बढ़त सबको चौंकाती है. राष्ट्रिय नमूना सर्वेक्षण कार्यालय के अनुसार, साल 2017 में सिर्फ धार्मिक पर्यटन से 3 लाख करोड़ की अर्थव्यवस्था रही थी.

ये भी पढ़ें – Guru Nanak Jayanti : क्या आप जानते हैं गुरुनानक जी के बारे में ये रोचक बातें ?

Indian Temples Wealth – जिसे अगर हम जीडीपी के अनुसार देखें तो भारत के कुल जीडीपी का 2.32 प्रतिशत है. इसके अलावा इस रिपोर्ट में यह भी बताया गया था कि लोग सबसे अधिक धार्मिक वजहों से ट्रेवल करते हैं.

धार्मिक स्थानों पर बना रहा इंफ्रास्ट्रक्चर

इसी वजह से पिछले 10 सालों में यह देखने को मिला है कि सरकार धार्मिक जगहों पर इंफ्रास्ट्रक्चर बना रही है. विदेशी मेहमानों को काशी की देव दिपावली में भाग लेने के विए आमंत्रित किया जाता है. जिससे भारी संख्या में विदेशी पर्यटक भी काशी आते है. अयोध्या में जब से दिपोत्सव शुरु हुई है.

ये भी पढ़ें – Haryana Bhat Viral Video : भाई ने विधवा बहन के घर लगा दिया नोटो का ढेर, भांजी के भात में भरे एक करोड़

तब से पर्यटकों के आने की संख्या में भारी बढ़ोत्तरी हुई है. सिर्फ देश ही नहीं बल्कि विदेश से भी लोग दिपोत्सव देखने अयोध्या पहुंच रहे है. जिससे अर्थव्यवस्था को काफी बूम मिला है. जानकारों का मानना है कि अगर यही स्थिति आने वाले समय में बनी रही तो भारत जल्द ही कोरोना से हुए नुकसान को भरपाई कर लेगा.