• किसान आंदोलन के एक साल पूरे होने के मौके पर किए जाएंगे प्रदर्शन

लखनऊ। 29 नवंबर से शुरू हो रहे शीतकालीन सत्र शुरू हो रहा है। इस बीच संयुक्त किसान मोर्चा ने घोषणा की है कि शीतकालीन सत्र की शुरुआत होने पर हर दिन 500 किसान ट्रैक्टर और ट्रॉलियों के साथ संसद तक रैली निकालेंगे।

संयुक्त किसान मोर्चा ने बयान दिया है कि , ’29 नवंबर से संसद का शीतकालीन सत्र शुरू हो रहा है। संयुक्त किसान मोर्चा ने यह फैसला लिया है कि 29 नवंबर से लेकर सत्र के अंत तक हर दिन 500 चयनित किसान ट्रैक्टर और ट्रॉलियों के साथ संसद तक रैली निकालेंगे। यह रैली पूरी तरह से अनुशासित और शांतिपूर्ण होगी।’

बता दें के मंगलवार को संयुक्त किसान मोर्चे में शामिल कई संगठनों के नेताओं ने सिंघु बॉर्डर पर मीटिंग की। जिसमें यह फैसला लिया गया।

वही 26 नवंबर को किसान आंदोलन के एक साल पूरे हो जाएंगे, इस मौके पर राज्यों की सीमाओं पर और दिल्ली में प्रदर्शन किए जाएंगे।

संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा कि ‘इस मौके पर पंजाब, हरियाणा, यूपी, उत्तराखंड, राजस्थान समेत कई राज्यों के किसान दिल्ली बॉर्डर की ओर कूच करेंगे।’

‘किसान संगठनों के ऐलान से साफ है कि नवंबर के आखिरी सप्ताह और शीतकालीन सत्र के दौरान दिल्ली और आसपास के इलाकों में आंदोलन का असर देखने को मिल सकता है।’