Advertisement

सिरफिरे ‘कार वॉशर’ ने 15 कारों पर फेंका तेजाब, घटना हुआ सीसीटीवी कैमरे में रिकार्ड

0
15
Acid Thrown On Cars

नोएडा : नोएडा में सेक्टर-113 थानाक्षेत्र के सेक्टर 75 स्थित एक सोसायटी में 15 लोगों की कारों पर एक युवक ने तेजाब (Acid Thrown On Cars) फेंक दिया, जिसकी वजह से उन गाड़ियों के पेंट और शीशे खराब हो गये है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।इस संबंध में सिक्योरिटी ऑफिसर ने आरोपी के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कराया है।

इसे भी पढ़ें – सीएम योगी ने हेमवती नंदन बहुगुणा की पुण्यतिथि पर अर्पित की श्रद्धांजलि, दोनों उपमुख्यमंत्री रहे साथ

थाना प्रभारी निरीक्षक जितेंद्र कुमार ने बताया कि मक्बलीस वाइट हाउस नामक सोसायटी में रोशन राय, रिप्सी, संदीप शर्मा, प्रदीप सिंह नेगी, यश शर्मा, आकाश सेगर, शुभम शर्मा, वंश झा, शिवी वर्मा, शशांक द्विवेदी, रमेश चंद्र पांडे, मदन गौतम, आलोक कुमार आदि ने पुलिस से शिकायत की कि 15 मार्च की सुबह जब वे ऑफिस जाने के लिए बेसमेंट मे खड़ी गाड़ियों को निकालने के लिए गए तो उन्होंने देखा कि उनकी कारों पर तेजाब फेंका हुआ है।

Acid Thrown On Cars – उन्होंने बताया कि पीड़ितों की शिकायत पर घटना की रिपोर्ट दर्ज कर पुलिस मामले की जांच कर रही है। उन्होंने बताया कि जांच के दौरान पुलिस को पता चला है कि कारों पर तेजाब फेंकने की वारदात सोसाइटी में कार की सफाई करने वाले युवक ने की है। उनके अनुसार सुरक्षा अधिकारी कासिम खान ने सीसीटीवी कैमरे की जांच की है तो यह पाया कि राम राज नामक व्यक्ति ने यह कृत्य किया है। उन्होंने बताया कि पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है।

इसे भी पढ़ें – अपराधियों से लोहा लेने में सबसे आगे है योगी की मेरठ पुलिस, एनकाउंटर में आगरा दूसरे तो बरेली पुलिस तीसरे नंबर पर

मूल रूप से हरदोई का रहने वाला रामराज पुत्र महिलाल होशियारपुर गांव में किराये पर रह रहा है। वह सेक्टर-75 की व्हाइट हाउस सोसायटी में कारों की सफाई का काम करता था। गत दिनों सोसाइटी वालों ने उसे काम से हटा दिया था। दो दिन पूर्व सोसाइटी की करीब 14 कारों पर किसी व्यक्ति ने तेजाब डालकर उन्हें काफी नुकसान पहुंचाया। एक साथ 14 कारों को क्षति पहुंचने से सोसायटीवासियों का माथा ठनका। उन्होंने सोसाइटी में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाले। फुटेज में रामराज सोसाइटी में आता हुआ और पार्किंग में खड़ी कारों पर बोतल से कोई तरल पदार्थ फेंकता हुआ दिखाई दिया। इसके पश्चात सिक्योरिटी ऑफिसर कासिम खान ने उसके खिलाफ थाना सेक्टर 113 में मुकदमा दर्ज कराया।